Gautam Buddha Suvichar in Hindi – Updesh – Thoughts

  1. gautam_buddha_Quotes_picturesThree things cannot be long hidden: the sun, the moon, and the truth.तीन चीजें जादा देर तक नहीं छुप सकती, सूरज, चंद्रमा और सत्य.
  2. Work out your own salvation. Do not depend on others.अपने मोक्ष के लिए खुद ही प्रयत्न करें. दूसरों पर निर्भर ना रहे.
  3. You will not be punished for your anger, you will be punished by your anger.
    तुम अपने क्रोध के लिए दंड नहीं पाओगे, तुम अपने क्रोध द्वारा दंड पाओगे.
  4. An insincere and evil friend is more to be feared than a wild beast; a wild beast may wound your body, but an evil friend will wound your mind.किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और दुष्ट मित्र से  ज्यादा डरना चाहिए, जानवर तो बस आपके शरीर को नुक्सान पहुंचा सकता है, पर एक बुरा मित्र आपकी बुद्धि को नुक्सान पहुंचा सकता है.
  5. Do not overrate what you have received, nor envy others. He who envies others does not obtain peace of mind.आपके पास जो कुछ भी है  है उसे बढ़ा-चढ़ा कर मत बताइए, और ना ही दूसरों से इर्श्या कीजिये. जो दूसरों से इर्श्या करता है उसे मन की शांति नहीं मिलती.
  6. Hatred does not cease by hatred, but only by love; this is the eternal rule.घृणा घृणा से नहीं प्रेम से ख़तम होती है, यह शाश्वत सत्य है.
  7. He who loves 50 people has 50 woes; he who loves no one has no woes.वह जो पचास लोगों से प्रेम करता है उसके पचास संकट हैं, वो  जो किसी से प्रेम नहीं करता उसके एक भी संकट नहीं है.


suvochar hindi in ,updesh emage ,emage of gautam budda updesh ,gavtam budha images ,gavtam budh matathi sovichar ,gavtam buddha ke updesh ,Gautam Budha k updesh ,gautam buddh ke updeshy ,budhu updesh in hindi ,budhache suvichar
Don't forget to Share this:

You may also like

4 Comments

  1. I very much like buddhha’s suvichar & thoughts
    Please send me on my mentioned mail id

    thanks & regards,
    surendra sakhare

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *