Swami Vivekananda Suvichar in Hindi

बहता पानी और रमता जोगी ही शुद्ध रहते हैं | ~ स्वामी विवेकानंद हिंदू संस्कृति आध्यात्मिकता की अमर आधारशिला पर आधारित है। ~~स्वामी विवेकानंद पक्षपात सब बुराइयों की जड़ है | ~ स्वामी विवेकानन्द भय ही पतन और पाप का निश्चित कारण है | ~ स्वामी विवेकानंद ज्ञानी कभी किसी व्यक्ति कि स्वतंत्रता , समानता , […]

Continue Reading