Bhagwan Krishna ke updesh – Hindi Gita Saar, Quotes, Anmol Vachan

Bhagwan Krishna ke updesh – Hindi Gita Saar, Quotes, Anmol Vachan & Suvichar Quote 1. सदैव संदेह करने वाले व्यक्ति के लिए प्रसन्नता ना इस लोक में है ना ही कहीं और. Quote 2. क्रोध से भ्रम पैदा होता है. भ्रम से बुद्धि व्यग्र होती है. जब बुद्धि व्यग्र होती है तब तर्क नष्ट हो […]

Continue Reading

Short Motivational Story – Krodh par vijay in hindi

एक व्यक्ति के बारे में यह विख्यात था कि उसको कभी क्रोध आता ही नहीं है। कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें सिर्फ बुरी बातें ही सूझती हैं। ऐसे ही व्यक्तियों में से एक ने निश्चय किया कि उस अक्रोधी सज्जन को पथच्युत किया जाये और वह लग गया अपने काम में। उसने इस […]

Continue Reading

यह जिस्म तो किराये का घर है… Motivational Poetry, Good Poems, Messages in Hindi

यह जिस्म तो किराये का घर है… एक दिन खाली करना पड़ेगा…|| सांसे हो जाएँगी जब हमारी पूरी यहाँ … रूह को तन से अलविदा कहना पड़ेगा…।। वक्त नही है तो बच जायेगा गोली से भी समय आने पर ठोकर से मरना पड़ेगा…|| मौत कोई रिश्वत लेती नही कभी… सारी दौलत को छोंड़ के जाना […]

Continue Reading

100+ Quotes in Hindi Images Gallery – Motivational Thoughts, Suvichar, Anmol Vachan Download

100+ Quotes in Hindi Images Gallery – Motivational Thoughts, Suvichar, Anmol Vachan Download: Find here great collections of Quotes in Hindi with Images, Best Hindi Motivational Thoughts, Suvichar, Anmol Vachan Download. You can share these inspiring quotes in hindi images with friends, facebook, whatsapp. Best Quotes in Hindi, Motivational Quotes in Hindi Language, Inspiring Quotes […]

Continue Reading

Inspiring Quotes in Hindi – Good Thoughts with Images

Visit this site for Latest Inspiring Quotes in Hindi, Good Thoughts with Images, Hindi Inspirational Pictures Quotes, Messages, Anmol Vachan, Suvichar and Motivational Wallpapers Quotes in Hindi Language share with friends, family members and other. Inspiring Quotes in Hindi Images   Zindagi me hamesha sabki jarurat rakho, par kabhi kisi ki kami nahi, kyunki, jarurat […]

Continue Reading

Small Poem on Love by Osho – ओशो की प्रेम पर कविता

प्रेम जागा हुआ प्रेम ही प्रार्थना सोये रहने वाले के लिये जिस प्रकार केवल सुबह हो जाने से ही कुछ नहीं होता! उसी प्रकार प्रेम हो जाने से ही कुछ नहीं होता! प्रेम हो-होकर भी लोग चूक जाते हैं! मन्दिर के द्वार तक आ-आकर लोग मुड़ जाते हैं, चूक जाते हैं! सीढियॉं चढ-चढकर लौट जाते […]

Continue Reading